Home Top City भारत के शाही शहर आगरा में देखने लायक पर्यटन स्थल

भारत के शाही शहर आगरा में देखने लायक पर्यटन स्थल

2 second read
0
0
186

मुगलों की राजधानी रह चुका ये आगरा शहर भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में गिना जाता है। आगरा शहर मुगलो के नायब शिल्पकला का चिन्ह है| आगरा में ताजमहल तो सबसे खास है ही इसके साथ यहां हम आपको उन सारे खास पर्यटन स्थलों के बारे में बताएँगे जो आगरा की तरफ पर्यटकों को आकर्षित करता है|

1. ताजमहलः

कहते हैं अगर आगरा में रहकर ताजमहल नहीं देखा तो क्या देखा। दुनिया के सात अजूबे के नाम से मशहूर उत्तर प्रदेश प्रदेश के आगरा शहर में स्थित ताजमहल ना सिर्फ देश, बल्कि पूरे विश्व में सबसे बड़ा आकर्षण का केंद्र है। सदियों से खड़ी ये खूबसूरत इमारत आज भी पर्यटकों को अपनी वास्तुकला का दीवाना बना लेती है। मुगलों की राजधानी रह चुका ये आगरा शहर भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में गिना जाता है।

अगर आप भी आगरा में जाकर यहां की सबसे खूबसूरत इमारत ताजमहल का दीदार करना चाहते हैं, तो नए नियम की जानकारी रखना जरूरी है। इस नए नियम के अनुसार अब पर्यटक ताजमहल में एक टिकट पर सिर्फ 3 घंटे ही बिता सकेंगे। यह टिकट मात्र ₹ 40 की होती है और आपको सिर्फ 3 घंटे का समय ताजमहल को देखने के लिए मिलता है। सुबह 6:00 बजे से लेकर शाम के 6:00 बजे तक किसी भी समय 3 घंटे के लिए एक व्यक्ति ताजमहल देखने के लिए पहुंच सकता है। याद रखिए शुक्रवार को ताजमहल में अंदर जाने की अनुमति नहीं मिलती है।

2. ताज संग्रहालयः

ताज संग्रहालय सन 1982 में ताजमहल परिसर की बाई और बनाया गया था। इस संग्रहालय में एक मुख्य हॉल के साथ दो अन्य फ्लोर और तीन गैलरी है। संग्रहालय में कई तरह की प्रदर्शनी लगाई गई है। इसमें मुख्य रूप से पांडुलिपि, लघु चित्र, शाही आदेश, शाही रसोई के बर्तन, सजावटी नग, मुगल काल के सिक्के, शस्त्र, टकसाल इत्यादि प्रदर्शित किए जाते हैं।

3. आगरा किलाः

ताजमहल से 15 किलोमीटर की दूरी पर आगरा का किला स्थित है। दिल्ली के लाल किले से मेल खाता हुआ यह किला आगरा में आगरा का किला कहलाता है। यह किला मुगलों की शान का शानदार उदाहरण है। ये ईटों से बना मजबूत किला है जिसकी शुरुआत राजपूतों ने की थी। बाद में अकबर ने इस किले को नए सिरे से बनवा कर यहां अपनी राजधानी बसाई। यहां हर शाम लाइट शो का आयोजन किया जाता है। यहां जाने के लिए मात्र ₹20 की टिकट लेनी पड़ती है।

4. बुलंद दरवाजाः

आगरा के किले से फतेहपुर सिकरी बुलंद दरवाजा 39 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। जहां तक आगरा से बस के जरिए आसानी से पहुंचा जा सकता है। यह विश्व का सबसे ऊंचा प्रवेश द्वार है और मुगल वास्तुकला का एक शानदार उदाहरण है। बुलंद दरवाजे का निर्माण लाल और बदामी रंग के बलुआ पत्थरों से किया गया है। जिसे सफेद और काले रंग के संगमरमर के द्वारा जिसे सजाया गया है। यह दरवाजा मस्जिद के आंगन से भी ऊंचा है।

5. जोधाबाई महलः

इस महल को अकबर की हिंदू रानियों का निवास स्थान कहा जाता है। इसमें हिंदू और मुस्लिम दोनों सभ्यता की शिल्प कला का सुंदर संयोजन देखने को मिलता है। यह महल अंदर से 2 मंजिला है। यहां पर जाने की टिकट फ्री होती है। इस महल पर भी शुक्रवार को नहीं जाया जा सकता।

Load More Related Articles
Load More By suman rajawat
Load More In Top City

Check Also

सपनों के शहर मुंबई की यात्रा

मुम्बई शहर चारों ओर से समुद्र से घिरा हुआ है। मुम्बई को कोई सपनों का शहर मानता है तो कोई म…