Home Top City राजस्थानः इतिहास का खास शहर अजमेर की सैर

राजस्थानः इतिहास का खास शहर अजमेर की सैर

8 second read
0
0
176

अजमेर शहर राजस्थान के प्रमुख और खूबसूरत शहरों में गिना जाता है। अजमेर राजस्थान में अरावली पर्वतमाला से घिरा हुआ है। संत मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह शरीफ के लिए अजमेर शहर सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। धार्मिक पारंपरिक और सांस्कृतिक महत्व के साथ-साथ अजमेर की खूबसूरती भी पर्यटकों को आकर्षित करती है। अजमेर ना ही सिर्फ धार्मिक पर्यटन स्थल है बल्कि सदियों से चली आ रही यहां की शिल्प कला और लोकाचार इसे खास बनाती है। अजमेर शरीफ की मजार पूरी दुनिया में विश्व प्रसिद्ध है। अजमेर में हिंदू धर्म और मुस्लिम धर्म दोनों से जुड़े धार्मिक स्थल देखने को मिलते हैं। संत मोहिद्दीन चिश्ती की दरगाह में मनाए जाने वाला उर्स त्योहार दुनिया भर में पर्यटकों के बीच प्रसिद्ध है। यहां पर आप अजमेर में घूमने लायक प्रमुख पर्यटक स्थलों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. अजमेर शरीफ की मजारः

अजमेर में स्थित मोइनुद्दीन चिश्ती की मजार ना सिर्फ मुसलमानों के लिए खास है, बल्कि हर धर्म के अनुयाई के लिए पवित्र स्थान माना जाता है। यहां आने वाले तीर्थ यात्रियों को एक अजीब तरह की सुगंध उनका ध्यान इस मजार की तरफ की तरफ खींचती है। यह पर्यटन स्थल लोगों में आध्यात्मिकता के प्रति एक सहज आकर्षण पैदा करता है। अजमेर शरीफ की यह मजार मुगलों द्वारा बनवाया गया था। इसलिए इस मजार में मुगल काल की वास्तुकला के अद्भुत नमूने अद्भुत नमूने देखने को मिलते हैं। यहां पर निजाम गेट, औलिया मस्जिद, दरगाह श्राइन, जामा मस्जिद, बुलंद दरवाजा, महफिल खाना, दावानल यह सब देखने लायक है।

 

2. आनासागर झीलः

आनासागर एक लुभावना शानदार कृत्रिम झील झील लुभावना शानदार कृत्रिम झील झील है। आनासागर झील हर साल गर्मी के मौसम में सूख जाता है। सूर्यास्त के दौरान इसका नाराज देखने लायक होता है। झील के किनारे बने कुछ मंदिर और मस्जिदों से से भी झील का नजारा बहुत खूबसूरत नजर आता है। आनासागर झील अजमेर की सबसे लोकप्रिय भारत की सबसे बड़ी झील में में से एक है झील में में से एक है में से एक है। इसका निर्माण अंबाजी तोमर के आदेशानुसार कराया गया था। जो पृथ्वीराज चौहान के दादा थे, झील का नाम भी इन्हीं के नाम पर नाम भी इन्हीं के नाम पर के नाम पर रखा गया है।

 


3. अड़ाई दिन का झोपड़ाः

अजमेर में अड़ाई दिन का झोपड़ा भी एक मस्जिद झोपड़ा भी एक मस्जिद है। इसका निर्माण कुतुबुद्दीन ऐबक ने करवाया था। जो दिल्ली में गुलाम वंश के पहले शासक थे। इसके बारे में यह कहा जाता है कि इस इस्लामिक आर्किटेक्ट साइट का साइट का का निर्माण सिर्फ ढाई दिन में किया गया था, इसीलिए इसे अड़ाई दिन का झोपड़ा कहा जाता है। हालांकि आज भी यहां के प्राचीन मंदिर खंडहरों की तरह ही दिखाई देते हैं। यहां के स्तंभों में सुंदर चित्रकारी और कलाकारी देखने लायक होती है। अड़ाई दिन का झोपड़ा वास्तु कला का अद्भुत नमूना है।.

 

4. अकबर का महलः

अकबर का महल एक अद्भुत महल है जहां पर अकबर के सैनिक अजमेर में रुका करते थे। यह अजमेर शहर के केंद्र में स्थित है। इस महल का निर्माण 1580 में करवाया गया था। अजमेर में अकबर का महल एक खास इमारत के रूप में जाना जाता है। साथ ही यहां संग्रहालय भी बनाया गया है जहां राजपूत और मुगल शैली के जीवन, लड़ाई और विभिन्न पहलुओं की चीजें संभाल कर रखी गई है। इस महल की सबसे बड़ी बात है कि उसका नाम मुसलीम धर्म से संबंधित होते हुए भी इस मंदिर के अंदर देवी काली की मूर्ति स्थापित है। जो पूरी तरह से काले रंग के संगमरमर पत्थर से बनी हुई है जो इस महल की सबसे बड़ी विशेषता है।

इनके अलावा नरेली जैन मंदिर, दूर्गा बाघ गार्डन, संगमरमर का शहर किशन गढ, अब्दुल्ला खान का मकबरा, पृथ्वीराज चौहान का स्मारक, मेयो कॉलेज संग्रहालय, साईं बाबा मंदिर, अकबरी किला, फोर्ट मसूदा,  सांभर झील  यह अजमेर के खास दर्शन स्थलों दर्शनीय स्थलों है।

यहां बस, ट्रेन और हवाई तीनों माध्यम से यात्रा की जा सकती है।

Load More Related Articles
Load More By suman rajawat
Load More In Top City

Check Also

सपनों के शहर मुंबई की यात्रा

मुम्बई शहर चारों ओर से समुद्र से घिरा हुआ है। मुम्बई को कोई सपनों का शहर मानता है तो कोई म…